>
victers
Copyright © 2016-2017 Victers.com
All Rights Reserved



logo
eschool
tutorials
about
home
contact
general knowledge
राजभाषा हिन्दी
स्वतंत्र भारत मैं हिन्दी को राजभाषा का पद प्राप्त है | राजभाषा का अर्थ है राज्य करने अथवा शासन चलाने की भाषा | शासन चलाने केलिये किसी ना किसी भाषा की ज़रूरत पड़ती है | भारत के इतिहास में संस्कृत, पाली, फारसी आदिभाषाएं समय समय पर राजभाषा के रूप में व्यवहृत होती रही | मुग़ल काल में अकबर के समय तक हिन्दी राजभाषा रही | फिर अकबर के मंत्री टोडरमाल के आदेश से फारसी को यह पद प्राप्त हो गया |बाद में उत्तर भारत में उर्दू को यह स्थान प्राप्त हुआ | अंग्रेज़ों के आगमन के बाद धीरे धीरे अंग्रेज़ी इस स्थान पर प्रतिष्ठित हो गयी | स्वतंत्रता प्राप्ति के दो साल बाद तक अंग्रेज़ी इस पद पर प्रतिष्ठित रही |
           
स्वतंत्रता आंदोलन के समय में ही स्वभाषा को राजभाषा का दर्जा दिलाने की माग उठी | १४ सितंबर १९४९ को स्वथंत्रा भारत के संविधान में हिन्दी को संघ की राजभाषा के रूप में स्वीकृत किया गया | किन्तु संविधान में यह भी कहा गया था कि अगले १५ वर्ष केलिए राजभाषा के रूप अंग्रेज़ी का भी प्रयोग होता रहेगा | संविधान ने राजभाषा हिन्दी का विकास करने केलिए केन्द्रीय सरकार को एक महत्वपूर्ण कार्य सौंपा है जो इसे १५ वर्षों में कर लेना चाहिए था | मगर सरकार ने अपने इस कर्तव्य को ईमानदारी से नहीं निफ़ाया |